What is NSA Full Form? NSA का Full Form क्या होता है? जानें NSA के बारे में जरूरी बातें…

4.4
(7)

NSA Full Form

दोस्तों नागरिकता संशोधन कानून (Citizenship Amendment Act / CAA) के चलते देशभर में प्रदर्शन हो रहे हैं। कुछ प्रदर्शन CAA के समर्थन में है और कुछ इसके विरोध में। इन प्रदर्शन में कई लोगों की जान गई, हिंसा हुई और सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचा। ऐसे में सरकार प्रदर्शनकारियों पर लगाम लगाने के लिए उन पर NSA Act (रासुका) लगाने की तैयार कर रही है।

लेकिन दोस्तों क्या आप जानते हैं की ये NSA Act (रासुका) Kya hai? या फिर NSA Act (रासुका) का मतलब क्या होता है? और NSA Act (रासुका) का फुल फॉर्म (NSA Full Form) क्या होता है?

नमस्कार दोस्तों हिन्दी में जानें ब्लॉग पर आप सभी का स्वागत है। क्या आप भी इंटरनेट पर NSA Act (रासुका) के बारे मे जानकारी (NSA Full Form) ढूंढ रहे है? यदि हाँ तो आज मैं इस आर्टिकल के जरिए हम आपको NSA Act Kya Hota Hai? NSA का मतलब क्या होता है? या फिर NSA की फुल फॉर्म (NSA Full Form) क्या होती है? इनके बारे में डिटेल में बताने जा रहा हूँ। इस पोस्ट को पढ़कर आप NSA Kya Hai? (NSA Full Form) के बारे में जान सकेंगे जिसका इस्तेमाल प्रदर्शनकारियों पर लगाम लगाने के लिए किया जाएगा।

NSA Kya Hai? (NSA Full Form)

तो दोस्तों आपको बता दें कि NSA की Full Form होती है National Security Act (नैशनल सिक्योरिटी एक्ट / राष्ट्रीय सुरक्षा कानून) होता है।

NSA Full Form : National Security Act

NSA Full Form in Hindi : नेशनल सिक्योरिटी एक्ट (हिंदी में अर्थ “राष्ट्रीय सुरक्षा कानून” / रासुका)

NSA Full Form : National Security Act

National Security Act / NSA क्या है ? What is National Security Act / NSA 

राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम -1980, देश की सुरक्षा के लिए सरकार को अधिक शक्ति देने से संबंधित एक कानून है। यह कानून केंद्र और राज्य सरकार को किसी भी संदिग्ध नागरिक को हिरासत में लेने की शक्ति देता है।

राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (NSA) के बारे में जरूरी जानकारियां

  • रासुका का मतलब राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (National Security Act / NSA) है।
  • 23 सितंबर, 1980 में इंदिरा गांधी की सरकार के दौरान बना था National Security Act / NSA
  • यह बेहद सख्त कानून है।
  • NSA केंद्र-राज्य को संदिग्ध व्यक्ति को हिरासत में लेने की शक्ति देता है।
  • इसमें हिरासत में लिए व्यक्ति को अधिकतम एक साल जेल में रखा जा सकता है।
  • ये कानून देश की सुरक्षा प्रदान करने के लिए सरकार को अधिक शक्ति देने से संबंधित है।
  • अगर कोई सार्वजनिक व्यवस्था को भंग करता है या जरूरी आपूर्ति और सेवाओं को बाधित करता है तो भी उस व्यक्ति को इस कानून के तहत हिरासत में लिया जा सकता है।
  • अगर कोई व्यक्ति दूसरे देशों के साथ भारत के संबंधों के लिए खतरा पैदा करता है, तो इस कानून के तहत उसे गिरफ्तार किया जा सकता है।
  • यह एक्ट सरकार को संदिग्ध विदेशी लोगों को कैद करने, उन्हे नियंत्रित करने या फिर उन्हें भारत से डिपोर्ट करने की शक्ति भी देता है।
  • NSA के तहत 12 महीने की प्रिवेंटिव हिरासत की अनुमति है, सरकार के हाथ संदिग्ध के खिलाफ नए सबूत लगने पर इस अवधि को बढ़ाया भी जा सकता है।
  • इस कानून के तहत जमाखोरों की भी गिरफ्तारी की जा सकती है। अगर सरकार को लगे कि वह व्यक्ति आवश्यक सेवा की आपूर्ति में बाधा बन रहा है तो सरकार उस व्यक्ति को National Security Act / NSA के तहत गिरफ्तार करवा सकती है।
इन्हें भी देखें :-  What is CAMSKRA Full Form? CAMSKRA का Full Form क्या होता है? जानें CAMS KRA क्या है?

रासुका कानून/ NSA ACT

रासुका कानून / NSA ACT

भारत देश में कई प्रकार के कानून बनाए गए हैं। ये कानून अलग-अलग स्थिति में लागू किए जाते हैं। इन्हीं मे से एक है National Security Act / NSA जिसे हिंदी में रासुका यानी राष्ट्रीय सुरक्षा कानून कहते हैं। 23 सितंबर, 1980 को इंदिरा गांधी की सरकार के दौरान इस कानून को बनाया गया था।

नेशनल सिक्योरिटी एक्ट (NSA) एक ऐसा कानून है जिसमें यह प्रावधान किया गया है कि यदि किसी व्यक्ति से कोई खास खतरा सामने आता है तो उस व्यक्ति को हिरासत में लिया जा सकता है यदि सरकार को लगता है कि कोई व्यक्ति देश के लिए खतरा है तो उसे गिरफ्तार किया जा सकता है।

1980 में देश की सुरक्षा के लिहाज से सरकार को ज्यादा शक्ति देने के उद्देश्य से बनाया गया था। यह एक्ट सरकार को शक्ति प्रदान करता है कि यदि उसे लगे कि किसी को देशहित में गिरफ्तार करने के की आवश्यकता है तो उसे गिरफ्तार भी किया जा सकता है। संक्षेप में कहा जाए तो यह एक्ट किसी भी संदिग्ध व्यक्ति को गिरफ्तार करने का अधिकार देता है।

National Security Act / NSA कानून के तहत किस व्यक्ति को हिरासत में लिया जा सकता है

  • अगर सरकार को लगता है कि कोई व्यक्ति उन्हें देश की सुरक्षा सुनिश्चित करने वाले कार्यों को करने से रोक रहा है तो उसे NSA Act के तहत हिरासत में लिया जा सकता है।
  • यदि सरकार को लगता है कि कोई व्यक्ति कानून व्यवस्था को सुचारू रूप से चलाने में उसके सामने बाधा खड़ी कर रहा है को सरकार उसे NSA Act के तहत हिरासत में लेने का आदेश दे सकती है।
  • अगर सरकार को लगता कि कोई व्यक्ति उसे देश की सुरक्षा सुनिश्चित करने वाले कार्यों को करने से रोक रहा है तो वह उस व्यक्ति को NSA Act के तहत गिरफ्तार करने का आदेश दे सकती है। इसके अलावा यदि सरकार को ये लगे कि कोई व्यक्ति कानून-व्यवस्था को सुचारू रूप से चलाने में उसके सामने बाधा खड़ा कर रहा है तो वह उसे गिरफ्तार करने का आदेश दे सकती है।
  • साथ ही, अगर उसे लगे कि वह व्यक्ति आवश्यक सेवा की आपूर्ति में बाधा बन रहा है तो वह उसे गिरफ्तार करवा सकती है।
  • इस कानून के तहत जमाखोरों की भी गिरफ्तारी की जा सकती है।
  • वहीं अगर सरकार को ये लगे कि कोई व्यक्ति अनावश्यक रूप से देश में रह रहा है और उसे गिरफ्तारी की नौबत आ रही है तो वह उसे गिरफ्तार करवा सकती है।
  • इस कानून का इस्तेमाल जिलाधिकारी, पुलिस आयुक्त, राज्य सरकार भी अपने सीमित दायरे में भी कर सकती है।
इन्हें भी देखें :-  What is IMRB Full Form? IMRB की फुल फॉर्म क्या होती है? जानें IMRB के बारे में सभी जरूरी बातें…

अधिकतम कितनी सजा मिल सकती है National Security Act / NSA कानून के तहत 

  • National Security Act / NSA कानून के तहत किसी व्यक्ति को पहले तीन महीने के लिए गिरफ्तार किया जा सकता है। फिर, आवश्यकतानुसार, तीन-तीन महीने के लिए गिरफ्तारी की अवधि बढ़ाई जा सकती है। एकबार में तीन महीने से अधिक की अवधि नहीं बढ़ाई जा सकती है।
  • अगर, किसी अधिकारी ने ये गिरफ्तारी की हो तो उसे राज्य सरकार को बताना होता है कि उसने किस आधार पर ये गिरफ्तारी की है। जब तक राज्य सरकार इस गिरफ्तारी का अनुमोदन नहीं कर दे, तब तक यह गिरफ्तारी बारह दिन से ज्यादा समय तक नहीं हो सकती है। अगर यह अधिकारी पांच से दस दिन में जवाब दाखिल करता है तो इस अवधि को बारह की जगह पंद्रह दिन की जा सकती है।
  • अगर रिपोर्ट को राज्य सरकार स्वीकृत कर देती है तो इसे सात दिनों के भीतर केंद्र सरकार को भेजना होता है। इसमें इस बात का जिक्र करना आवश्यक है कि किस आधार पर यह आदेश जारी किया गया और राज्य सरकार का इसपर क्या विचार है और यह आदेश क्यों जरूरी है।
  • संदिग्ध व्यक्ति को 3 महीने के लिए बिना जमानत के हिरासत में रखा जा सकता है और इसकी अवधि बढ़ाई भी जा सकती है। इसके साथ ही हिरासत में रखने के लिए आरोप तय करने की भी जरूरत नहीं होती और हिरासत की समयावधि को 12 महीने तक किया जा सकता है।
  • जिस व्यक्ति के खिलाफ आदेश जारी किया जाता है, उसकी गिरफ्तारी भारत में कहीं भी हो सकती है।
  • साथ ही हिरासत में लिया गया व्यक्ति हाईकोर्ट के एडवाइजरी के सामने अपील कर सकता है लेकिन उसे मुकदमे के दौरान वकील की अनुमति नहीं है। यहां राज्य सरकार को यह बताना होता है कि इस व्यक्ति को National Security Act / NSA कानून के तहत हिरासत में रखा गया है।
  • अगर, गिरफ्तारी के कारण पर्याप्त साबित हो जाते हैं तो व्यक्ति को गिरफ्तारी की अवधि से एक साल तक हिरासत में रखा जा सकता है। समया अवधि पूरा होने से पहले न तो सजा समाप्त की जा सकती है और ना ही उसमें फेरबदल हो सकता है।

तो दोस्तों ऊपर आर्टिकल मे हमने आपको NSA का फुल फॉर्म (NSA Full Form) : National Security Act के बारे मे डिटेल में जानकारी दी है अब आगे इसी आर्टिकल में हम आपको हम अलग अलग फील्ड के हिसाब से NSA टर्म के कुछ अन्य Full Form के बारे में बताएँगे।

NSA Full Form in Chat or NSA Full Form in Relationship 

No Strings Attached (नो स्ट्रिंग्स अटैच्ड) (हिंदी में अर्थ : कोई बंधन नहीं)

नो स्ट्रिंग्स अटैच्ड मौलिक रूप से, बिना किसी बंधन के संबंध वह है जिसमें दो लोग एक दूसरे के साथ विशुद्ध रूप से शारीरिक संबंध रखते हैं; उनके बीच कोई भावनात्मक संबंध नहीं है। दूसरे शब्दों में, बिना किसी बंधन के संबंध का मतलब है कि आप यौन रूप से अंतरंग हैं, लेकिन जहां तक ​​आपका रिश्ता जाता है, और आप किसी भी तरह से एक-दूसरे के लिए प्रतिबद्ध नहीं हैं।

इन्हें भी देखें :-  What is RTA Full Form | RTA का मतलब क्या होता है? जानें RTA के बारे में जरुरी बातें

एक “No Strings Attached” रिलेशनशिप वह है जिसमें भावनात्मक या शारीरिक निष्ठा या समर्थन के लिए कोई विशेष शर्तें या प्रतिबंध नहीं हैं।

Nsa Full Form in 5G Network :

Non – Standalone

NSA यानी नॉन-स्टैंडअलोन जैसा कि नाम से पता चलता है, एक 5G सेवा है जो ‘अकेले’ (Stand Alone) नहीं है बल्कि मौजूदा 4G नेटवर्क पर बनी है।

5G नेटवर्क दो तरह के इंटरफेस SA यानी स्टैंडअलोन और NSA नॉन-स्टैंडअलोन पर काम कर सकते हैं. NSA यानी Non-standalone नेटवर्क को 4G इंफ्रास्ट्रक्चर पर ही शुरू कर सकते हैं। वहीं SA यानी स्टैंडअलोन इंटरफेस होने पर ये 4G इंफ्रास्ट्रक्चर पर निर्भर नहीं करेगी। यह टेक्नोलॉजी पूरी तरह से 5G इंफ्रास्ट्रक्चर पर बेस्ड होगी. इसमें मौजूदा 4G नेटवर्क और इंफ्रास्ट्रक्चर का कोई रोल नहीं होगा।

NSA Full Form in Exam / Job : National Security Advisor

NSA Full Form in Bio : The Neurosphere Assay

NSA Full Form in America : National Security Agency

NSA Full Form in America : National Security Agency

NSA Full Form in America : National Security Agency

FAQ About NSA Full Form 

Q. NSA का Full Form क्या होता है?

Ans: NSA की Full Form होती है National Security Act (नैशनल सिक्योरिटी एक्ट / राष्ट्रीय सुरक्षा कानून) होता है। जिसे रासुका भी कहते हैं।

NSA Full Form : National security act

NSA Full Form in Hindi : नैशनल सिक्योरिटी एक्ट
(हिंदी में अर्थ “राष्ट्रीय सुरक्षा कानून” / रासुका)
राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम -1980 ( रासुका) देश की सुरक्षा के लिए सरकार को अधिक शक्ति देने से संबंधित एक कानून है। यह कानून केंद्र और राज्य सरकार को किसी भी संदिग्ध नागरिक को हिरासत में लेने की शक्ति देता है।

Q. NSA का एग्जाम क्या है?

Ans : NSA Exam में NSA का फुल फार्म होता है National Security Advisor. इस तरह NSA Exam का मतलब है National Security Advisor (राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार) की जॉब के लिए लिया जाने वाला एग्जाम। “National Security Advisor / NSA” भारत की राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद का सर्वोच्च रैंक वाला सदस्य है।

Q. What is NSA in Bio?

Ans : The Neurosphere Assay (NSA)

Q. 5G Network में NSA और SA क्या है?

Ans : 5G नेटवर्क दो तरह के इंटरफेस पर काम कर सकते हैं एक SA यानी StandAlone इंटरफेस और दूसरा NSA यानी Non – Standalone इंटरफेस. NSA यानी Non-standalone नेटवर्क को 4G इंफ्रास्ट्रक्चर पर ही शुरू कर सकते हैं। वहीं SA यानी StandAlone इंटरफेस होने पर ये 4G इंफ्रास्ट्रक्चर पर निर्भर नहीं करेगी। यह टेक्नोलॉजी पूरी तरह से 5G इंफ्रास्ट्रक्चर पर बेस्ड होगी। इसमें मौजूदा 4G नेटवर्क और इंफ्रास्ट्रक्चर का कोई रोल नहीं होगा।

Q. 5G स्टैंडअलोन (SA) बनाम नॉन-स्टैंडअलोन (NSA) में क्या अंतर है?

Ans : 5G स्टैंडअलोन (SA) और नॉन-स्टैंडअलोन (NSA) के बीच प्रमुख अंतर कोर नेटवर्क में है। विशेष रूप से, 5G NSA में मौजूदा 4G LTE नेटवर्क पर 5G RAN डालना शामिल है, जबकि 5G SA के लिए नए 5G पैकेट कोर नेटवर्क की आवश्यकता होती है।

तो दोस्तों ऊपर ऑर्टिकल में हमने आपको NSA का मतलब (NSA Full Form) क्या होता है? के बारे में डीटेल में जानकारी दी है। उम्मीद है आपको यह जानकारी पसंद आई होगी।

उम्मीद है इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आपको NSA की फ़ुल फॉर्म (NSA Full Form) और NSA एक्ट/ रासुका क्या है? के बारे में जानकारी मिल गयी होगी। और आर्टिकल आपको पसंद आया होगा।

दोस्तों अगर आपके पास NSA Full Form के बारे में ऊपर दी गई जानकारी के अलावा और भी कुछ जानकारी है तो आप उसे नीचे कमेंट में लिखकर हमसे शेयर कर सकते हैं हम आपकी उस जानकारी को भी इस आर्टिकल में add कर देंगे।

और दोस्तों ऑर्टिकल पसंद आया हो तो इसे अपने सोशल मीडिया नेटवर्क जैसे facebook, whatsapp आदि पर शेयर जरूर कर दीजिए ताकि और लोगों को भी इस बारे में जानकारी मिल सके।

न्यवाद!

दोस्तों आपको हमारे द्वारा दी गई यह जानकारी कैसी लगी।

अगर ये आर्टिकल आपको पसंद आया हो तो इसे 5 star रेटिंग दीजिए!

Average rating 4.4 / 5. Vote Count: 7

No votes so far! Be the first to rate this post.

Kavita Devi
Kavita Devi

 कविता देवी  हिन्दी में जानें ब्लॉग की Founder और Author है। इन्हें हमेशा से इंटरनेट पर जानकारी पढ़ना और उसे अन्य लोगों के साथ शेयर करना पसंद है। अगर आपको इनके द्वारा शेयर की गई जानकारी अच्छी लगती है तो आप इन्हे Social Media पर फॉलो कर सकते है। Thank You!

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *