What is RFO Full Form? RFO का Full Form क्या होता है? जानें आरएफओ के बारे में जरूरी बातें…

RFO Full Form
4.2
(10)

RFO Full Form

Contents show

दोस्तों 2023 में महाराष्ट्र वन विभाग में ACF और RFO की पोस्ट के लिए जॉब निकली है। इसी तरह देश के अलग अलग प्रदेशों में भी वन विभाग में अक्सर ACF और RFO की पोस्ट के लिए जॉब निकलती रहती है, लेकिन दोस्तों क्या आप जानते हैं की वन विभाग में ये ACF और RFO की पोस्ट कौन सी होती है? इनका मतलब क्या होता है या फिर ACF और RFO का Full Form क्या होता है?

यदि नहीं तो दोस्तों ACF के बारे में जानकारी पाने के लिए आप हमारे इस आर्टिकल “What is ACF Full Form? ACF का मतलब क्या होता है? जानें ACF के बारे में जरुरी बातें” को पढ़ सकते हैं और आज के इस आर्टिकल में हम आपको जानकारी देंगे RFO के बारे में की वन विभाग में RFO कौन होता है? या फिर RFO की पोस्ट क्या होती है? और RFO का फुल फॉर्म (RFO Full Form) क्या होता है?

नमस्कार दोस्तों हिन्दी में जानें ब्लॉग पर आप सभी का स्वागत है। क्या आप भी इंटरनेट पर RFO के बारे मे जानकारी (RFO Full Form) ढूंढ रहे है? यदि हाँ तो आज मैं इस आर्टिकल के जरिए हम आपको RFO Kaun Hota Hai? RFO की पोस्ट क्या होती है? या फिर RFO की फुल फॉर्म (RFO Full Form) क्या होती है? इनके बारे में डिटेल में बताने जा रहा हूँ। इस पोस्ट को पढ़कर आप RFO Kya Hai? (RFO Full Form) के बारे में जान सकेंगे।

RFO की Full Form क्या होती है?

तो दोस्तों आपको बता दें कि वन विभाग में RFO की Full Form Range Forest Officer (रेंज फॉरेस्ट ऑफिसर) होता है।

RFO Full Form : Range Forest Officer

RFO Full Form in Hindi : रेंज फॉरेस्ट ऑफिसर (हिंदी में अर्थ “क्षेत्रीय वन अधिकारी”)

RFO Full Form Range Forest Officer

वन विभाग में Range Forest Officer (RFO) कौन होता है?

वन की सुरक्षा और देखभाल के लिए सरकार की तरफ से जिस ऑफिसर की नियुक्ति की जाती है, उसे Range Forest Officer (RFO) या क्षेत्रीय वन अधिकारी कहते हैं।

Range Forest Officer (RFO) की जॉब एक सरकारी जॉब है। इस जॉब में आपको पर्यावरण से जुड़े रहने का बहुत अच्छा मौका मिलता है। अगर आप पर्यावरण प्रेमी हैं और आप पर्यावरण के संरक्षण से जुड़े कार्य को करना चाहते हैं और अपना भविष्य बनाना चाहते हैं तो Range Forest Officer (RFO) आपके लिए सबसे अच्छी सरकारी जॉब है।

Range Forest Officer (RFO) राज्य सरकार (State Government) तथा केंद्र सरकार (Central Government) के पर्यावरण मंत्रालय के अंदर काम करती है। बहुत सारे Public Sector Undertaking भी Range Forest Officer (RFO) के लिए Jobs निकालती हैं। Range Forest Officer (RFO) का पोस्ट Group B का होता है।

RFO

Range Forest Officer (RFO) का काम क्या होता है?

  • Range Forest Officer (RFO) का काम वनों की अवैध कटाई को रोकना, अवैध शिकार को रोकना और वनों की देखभाल करना होता है।
  • इसके अलावा इनका काम जंगल की सुरक्षा करना होता है। जंगल की संपूर्ण सुरक्षा और देखभाल के लिए एक क्षेत्रीय वन अधिकारी को जो काम करने होते वे हैं
  • वन विभाग और वन मंत्रालय की जानकारी के लिए जंगल के पेड़ पौधों, जीव जंतुओं से जुड़ा सर्वे करना, कागजी कार्यवाही करना और रिपोर्ट तैयार करना।
  • भेड़, बकरियों व अन्य सभी पालतू जानवरों को वन भूमि पर चरने से रोकना।
  • घायल जीव जंतुओं और पक्षियों को चिकित्सा सहायता देना या उन्हें ऐसे जगह पहुंचाना जहां वे ठीक हो सके और सुरक्षित रहें।
  • अपने से नीचे रैंक पर काम कर रहे कर्मचारियों को काम सौंपना और उनके काम का निरीक्षण करना।
  • जंगल में अधिक से अधिक पेड़-पौधे लगाना ताकि जंगल का विकास हो सके।
  • जंगल में बिजली गिरने की वजह से अक्सर आग लगती रहती है, ऐसे में Range Forest Officer को सतर्क रहते हुए जंगल में आग लगने पर तुरंत आग बुझाने का काम करना होता है।
  • वन में जहां आवश्यक हो, वहां चेतावनी बोर्ड या सूचना बोर्ड लगाना।
  • वन के ट्रेल्स, सड़कों, पुलों, नहरों, बांधों, केबिनों और बाड़ों के निर्माण की देख-रेख करना।
  • समय-समय पर वन में बिजली और टेलीफोन लाइन का निरीक्षण करते रहना।
  • शिकारियों को शिकार ना करने देना, अवैध रूप से काटी गई लकड़ी या शिकार किए गए जानवरों या जानवरों के अंगों को जब्त करना।
इन्हें भी देखें :-  What is NABARD Full Form? NABARD का Full Form क्या होता है? जानें नाबार्ड के बारे में जरूरी बातें…

इस तरह के तमाम काम एक Range Forest Officer (RFO) को करने होते है, इन सभी कामो के लिए एक टीम बनायीं जाती है।

Range Forest Officer (RFO) कैसे बनें 

Range Forest Officer की जॉब पाने के लिए आपको कड़ी मेहनत करनी पड़ सकती है। क्योंकि यह नौकरी आसानी से किसी को नहीं मिलती है। इसके लिए आपको संबंधित राज्य की Forest Service (IFS) परीक्षा उत्तीर्ण करनी होगी।

बता दें कि Range Forest Officer (RFO) के लिए राज्य लोक सेवा आयोग (State Public Service Commission / UPSC) भर्तियों का आयोजन करता है। बता दें कि केवल साइंस स्ट्रीम के ग्रेजुएट या इससे समकक्ष ही RFO के एग्जाम के लिए अप्लाई कर सकते हैं।

Range Forest Officer (RFO) के लिए केवल कुछ ही रिक्तियां निकाली जाती हैं, और इसकी भर्ती प्रत्येक 2-3 वर्षों के बाद होती है। लेकिन उसके लिए भी आपके पास कुछ जरूरी पात्रता होनी चाहिए तभी आप Range Forest Officer (RFO) की पोस्ट के लिए अप्लाई कर सकते हैं। आइए अब जानते हैं कि Range Forest Officer (RFO) बनने के लिए क्या पात्रता होनी चाहिए? इसके बारे में :

वन विभाग में Range Forest Officer (RFO) बनने के लिए पात्रता

इस पद पर आवेदकों को केवल उनकी शैक्षणिक योग्यता, शारीरिक योग्यता और मानसिक क्षमता के आधार पर आवेदन करने का अवसर दिया जाता है।

रेंज फॉरेस्ट ऑफिसर बनने के लिए शैक्षणिक योग्यता (Educational qualification for Range Forest Officer / RFO)
  • बता दें कि फॉरेस्ट रेंजर के लिए न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता स्नातक डिग्री है।
  • आवेदक मैथ, फिजिक्स, केमिस्ट्री, बॉटनी (वनस्पति विज्ञान), बायोलॉजी, फॉरेस्ट साइंस, जियोलॉजी, एग्रीकल्चरल स्टेटिक्स, गार्डनिंग (बागवानी), या पर्यावरण विज्ञान से किसी भी दो विषयों के साथ डिग्री धारक होना चाहिए। इसके अलावा एग्रीकल्चर में बैचलर डिग्री या इंजीनियरिंग में बैचलर डिग्री या वैटरनी साइंस (पशु चिकित्सा विज्ञान) में बैचलर डिग्री धारक भी आवेदन कर सकते है।

यहां ध्यान दें – कई बार कुछ भर्तियों में शैक्षणिक योग्यता की अलग-अलग मांग की जाती है। इसलिए भर्ती विज्ञापन में प्रदर्शित जानकारी को फॉलो करना चाहिए।

रेंज फॉरेस्ट ऑफिसर बनने के लिए शारीरिक योग्यता (Physical Eligibility for Range Forest Officer / RFO)
  • वन विभाग में रेंज फॉरेस्ट ऑफिसर बनने के लिए आवेदक शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ होना चाहिए।
  • आवेदक की हाइट 163 सेंटीमीटर या इससे अधिक होनी चाहिए।
  • इसमें, महिला आवेदक की हाइट 150 सेंटीमीटर या इससे अधिक होनी चाहिए।
  • पुरुषों के लिए चेस्ट कम से कम 79 सेंटीमीटर और फूलाने के बाद 84 सेंटीमीटर होना चाहिए।
  • यहां महिला वर्ग के लिए चेस्ट 77 सेंटीमीटर होना आवश्यक है।
रेंज फॉरेस्ट ऑफिसर बनने के लिए आयुसीमा (Age Limit for Range Forest Officer / RFO)
  • वन विभाग में रेंज फॉरेस्ट ऑफिसर की पोस्ट के लिए अप्लाई करने के लिए आवेदन करने वाले आवेदक के लिए आयु सीमा 18 वर्ष से 30 वर्ष तक है।
  • इस प्रक्रिया में अनुसूचित जाती/जनजाति के आवेदकों के लिए आयु सीमा में 5 वर्ष की छूट दी जाएगी।

वन विभाग में रेंज फॉरेस्ट ऑफिसर बनने के लिए चयन प्रक्रिया (Selection Process for Range Forest Officer / RFO)

  • Preliminary Examination
  • Main Examination
  • Physical Standard Test
  • Medical Test
  • Personal Interview
इन्हें भी देखें :-  What is CTS AITT Full Form? CTS AITT की फुल फॉर्म क्या होती है? जानें CTS AITT के बारे में सभी जरूरी बातें…

वन विभाग Range Forest Officer / RFO के एग्जाम का कोर्स

  • वन विभाग Range Forest Officer / RFO के एग्जाम का कोर्स सामान्य ज्ञान, भारत का इतिहास, भारत का भूगोल, वर्तमान घटनाए और अर्थव्यवस्था इन विषयो पर आधारित होता है।
  • रेंज फॉरेस्ट ऑफिसर के एग्जाम में सामान्य विज्ञान के साथ पर्यावरण से संबंधित प्रश्न भी पूछे जाते है।
  • इसमें भारत का इतिहास में स्वतंत्र भारत के बारे में प्रश्न पूछे जाते है।
  • यदि आप वन विभाग में रेंज फॉरेस्ट ऑफिसर पद के लिए आवेदन करते है तो आपको इन पाठ्यक्रमो को ध्यान में रखकर परीक्षा की तैयारी करनी चाहिए।

वन विभाग रेंज फॉरेस्ट ऑफिसर के लिए अप्लाई कैसे करे (How to Apply)

  • सबसे पहले आपको रेंज फॉरेस्ट ऑफिसर के भर्ती विज्ञापन में दी गई जानकारी को अच्छी तरह से पढ़ना चाहिए।
  • उसके बाद, आपको उसके अनुसार अप्लाई करना होगा।
  • अप्लाई करने की प्रोसेस बहुत सरल होती है।
  • इसमें आपको ऑनलाइन अप्लाई करना होता है।
  • इसके लिए आपको इसके पोर्टल साइट पर जाना होता है।
  • भर्ती विज्ञापन में पोर्टल साइट की लिंक दी जाती है।
  • उस लिंक पर क्लिक करके आप पोर्टल साइट पर विजिट कर सकते है।
  • उसके बाद वहां ऑनलाइन अप्लाई करने का ऑप्शन चुनना होता है।
  • फिर वहां सभी डॉक्यूमेंट्स के साथ सभी जानकारी को सही सही भरना होता है।
  • इसके एग्जाम फीस की पेमेंट भी आप डेबिट/ क्रेडिट कार्ड या नेटबैंकिंग के जरिये ऑनलाइन कर सकते हैं।
  • संघ लोक सेवा आयोग (UPSC) द्वारा वन अधिकारी भर्ती परीक्षा का आयोजन किया जाता है। यह भर्ती आयोग द्वारा वर्ष में एक बार आयोजित की जाती है। इस परीक्षा को तीन चरणों में विभाजित किया गया है।
  1. प्रारम्भिक परीक्षा
  2. मुख्य परीक्षा
  3. इंटरव्यू

1. प्रारम्भिक परीक्षा : क्षेत्रीय वन अधिकारी पद के लिए आपको प्रारम्भिक परीक्षा में सम्मिलित होना पड़ेगा। इस परीक्षा में वस्तुनिष्ठ प्रश्नों को पूछा जाता है। यदि आप इस परीक्षा को सफलतापूर्वक उत्तीर्ण कर लेते है, तो आपको मुख्य परीक्षा के लिए बुलाया जायेगा।

2. मुख्य परीक्षा (Mains) : प्रारम्भिक परीक्षा उत्तीर्ण करने के बाद आप मुख्य परीक्षा में सम्मिलित हो सकते है। यदि आप मुख्य परीक्षा में सफल हो जाते है, तो आपको साक्षात्कार के लिए बुलाया जायेगा।

3. साक्षात्कार (Interview) : मुख्य परीक्षा के बाद आयोग के द्वारा साक्षात्कार का आयोजन किया जाता है, साक्षात्कार में आयोग द्वारा निर्धारित समिति के समक्ष आपको साक्षात्कार देना पड़ेगा। समिति के सदस्य क्षेत्र विशेषज्ञ होते है, जो आपकी सम्पूर्ण प्रतिभा की जाँच करते है, यदि आप समिति के अनुरूप सभी प्रश्नों का उत्तर सही ढंग से दे देते है, तो आपका क्षेत्रीय वन अधिकारी पद के लिए चयन कर दिया जायेगा।

पाठ्यक्रम (Syllabus)

  • कृषि विज्ञान
  • पशुपालन और पशु चिकित्सा विज्ञान
  • रसायन विज्ञान
  • गणित और सांख्यिकी
  • असैनिक अभियंत्रण
  • इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग
  • भारतीय इतिहास
  • मैकेनिकल इंजीनियरिंग
  • भौतिक विज्ञान
  • राजनीति विज्ञान
  • मनोविज्ञान
  • सार्वजनिक प्रशासन
  • प्राणी विज्ञान

रेंज फॉरेस्ट ऑफिसर का मासिक वेतन (Salary of Range Forest Officer / RFO)

7वें वेतन आयोग के बाद, एक रेंज फॉरेस्ट ऑफिसर का पे स्केल 35,400 – 1,12,400 रूपये होता है। सभी कटौतियों को सैलरी में शामिल करने के बाद एक रेंज फॉरेस्ट ऑफिसर की इन-हैंड सैलरी लगभग 50,000 रुपये प्रति माह होती है। इसके अलावा इन्हें अन्य सुविधाए भी अलग से दी जाती है।

तो दोस्तों ऊपर आर्टिकल में हमने आपको RFO की फुल फॉर्म (RFO Full Form) और Range Forest Officer (रेंज फॉरेस्ट ऑफिसर) के बारे में जानकारी दी है। दोस्तो अब इसी आर्टिकल में नीचे हम आपको RFO टर्म के अलग अलग फील्ड के हिसाब से अन्य RFO Full Form के बारे में जानकारी देंगे।

RFO Full Form in Real Estate

Ready for Occupancy

Ready for Occupancy (RFO) का मतलब है कि कोई संपत्ति रहने के लिए तैयार है। यह एक ऐसी संपत्ति के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला शब्द है जिसे खरीदने के लिए लिस्ट किया गया है और जिसे रहने के लिए तैयार किया गया है, यानी इसमें कोई मरम्मत या रखरखाव की आवश्यकता नहीं है।

जब कोई संपत्ति Ready for Occupancy (RFO) के रूप में सूचीबद्ध होती है, तो इसका मतलब है कि खरीदार को केवल संपत्ति का स्वामित्व लेने और इसमें रहने की आवश्यकता होती है। खरीदार को संपत्ति में किसी भी मरम्मत या रखरखाव मे निवेश करने की आवश्यकता नहीं है।

इन्हें भी देखें :-  What is STF Full Form? STF का Full Form क्या होता है? जानें "स्पेशल टास्क फोर्स" के बारे में जरूरी बातें…

Ready for Occupancy (RFO) संपत्ति खरीदने के कई फायदे हैं। सबसे पहले, यह खरीदारों के लिए समय और पैसे बचा सकता है। खरीदारों को संपत्ति में मरम्मत या रखरखाव करने में समय नहीं बिताना पड़ता है, और उन्हें मरम्मत या रखरखाव की लागत का भुगतान नहीं करना पड़ता है। दूसरे, Ready for Occupancy (RFO) संपत्ति खरीदारों को तुरंत रहने के लिए एक संपत्ति मिल जाती है। उन्हें संपत्ति में मरम्मत या रखरखाव की प्रतीक्षा करने की आवश्यकता नहीं होती है।

Other RFO Full Form 

RFO Full Form in Military and DefenceRoyal Flying Officer
RFO Full Form in Computer and NetworkingRemote Foreign Office
RFO Full Form in TelecommunicationReason for Outage
RFO Full Form in NetworkingRegional Framework Operative
RFO Full Form in ElectronicsRestricted Flow Orifice
RFO Full Form in Space ScienceResearch Facility Official

FAQ About RFO Full Form

Q. वन विभाग में जो RFO की पोस्ट के लिए जॉब निकली है उसमें RFO का मतलब (RFO Full Form) क्या है?

Ans : वन विभाग में RFO की Full Form Range Forest Officer (रेंज फॉरेस्ट ऑफिसर) होता है।

RFO Full Form : Range Forest Officer

RFO Full Form in Hindi : रेंज फॉरेस्ट ऑफिसर (हिंदी में अर्थ “क्षेत्रीय वन अधिकारी”)

Q. वन विभाग में Range Forest Officer (RFO) कौन होता है?

Ans : वन की सुरक्षा और देखभाल के लिए सरकार की तरफ से जिस ऑफिसर की नियुक्ति की जाती है, उसे Range Forest Officer (RFO) या क्षेत्रीय वन अधिकारी कहते हैं।

Q. वन विभाग में Range Forest Officer (RFO) या क्षेत्रीय वन अधिकारी का काम क्या होता है?

Ans : Range Forest Officer (RFO) का काम वनों की अवैध कटाई को रोकना, अवैध शिकार को रोकना जंगल की सुरक्षा करना, और वनों की देखभाल करना होता है।

Q. वन विभाग में RFO की सैलरी कितनी होती है?

Ans : एक रेंज फॉरेस्ट ऑफिसर का पे स्केल 35,400 – 1,12,400 रूपये होता है। सभी कटौतियों को सैलरी में शामिल करने के बाद एक रेंज फॉरेस्ट ऑफिसर की इन-हैंड सैलरी लगभग 50,000 रुपये प्रति माह होती है। इसके अलावा इन्हें अन्य सुविधाए भी अलग से दी जाती है।

Q. रियल एस्टेट में RFO क्या होता है?

Ans : रियल एस्टेट में RFO का मतलब होता है Ready for Occupancy इसका मतलब होता है की जिस प्रॉपर्टी के बारे में जानकारी दी जा रही है वह पूरी तरह से तैयार है और प्रॉपर्टी खरीदते ही खरीददार को उसका कब्जा मिल जाएगा।

तो दोस्तों ऊपर ऑर्टिकल में हमने आपको RFO का मतलब (RFO Full Form) क्या होता है? के बारे में डीटेल में जानकारी दी है। उम्मीद है आपको यह जानकारी पसंद आई होगी।

उम्मीद है इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आपको RFO की फ़ुल फॉर्म (RFO Full Form) और वन विभाग में आरएफओ कौन होता है? के बारे में जानकारी मिल गयी होगी और आर्टिकल आपको पसंद आया होगा।

दोस्तों अगर आपके पास RFO Full Form के बारे में ऊपर दी गई जानकारी के अलावा और भी कुछ जानकारी है तो आप उसे नीचे कमेंट में लिखकर हमसे शेयर कर सकते हैं हम आपकी उस जानकारी को भी इस आर्टिकल में add कर देंगे।

और दोस्तों ऑर्टिकल पसंद आया हो तो इसे अपने सोशल मीडिया नेटवर्क जैसे facebook, whatsapp आदि पर शेयर जरूर कर दीजिए ताकि और लोगों को भी इस बारे में जानकारी मिल सके।

न्यवाद!

दोस्तों आपको हमारे द्वारा दी गई यह जानकारी कैसी लगी।

अगर ये आर्टिकल आपको पसंद आया हो तो इसे 5 star रेटिंग दीजिए!

Average rating 4.2 / 5. Vote Count: 10

No votes so far! Be the first to rate this post.

दोस्तों अगर आपको यह जानकारी पसंद आई हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें ताकि उन्हें भी इस बारे में जानकारी मिल जाए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *