What is UAPA Full Form? UAPA Act क्या है? UAPA का मतलब क्या होता है? जानें UAPA के बारे में…

UAPA Full Form
5
(1)

UAPA Full Form

नमस्कार दोस्तों हिन्दी में जानें ब्लॉग पर आप सभी का स्वागत है। दोस्तों क्या आप जानते हैं कि UAPA क्या है? UAPA का मतलब क्या होता है? और UAPA की फुल फॉर्म (UAPA Full Form) क्या होती है?

दोस्तों अक्सर हम न्यूज में UAPA Act के बारे में सुनते ही रहते हैं जैसे सितंबर 2022 में केंद्र सरकार ने UAPA एक्ट के तहत पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (PFI) और उसके सहयोगी संगठनों पर पांच साल के लिए प्रतिबंध लगाया था और केंद्रीय कृषि कानूनों के खिलाफ किसान आंदोलन में गणतंत्र दिवस पर हुई हिंसा में किसान नेताओं के खिलाफ UAPA एक्ट लगाने की बातें हो रही थीं। इसी तरह अन्य बहुत सारे न्यूज में हम UAPA एक्ट के बारे में सुनते ही रहते हैं। UAPA Full Form

लेकीन दोस्तों क्या आप जानते हैं कि ये UAPA Act क्या है? UAPA का मतलब क्या है? या फिर UAPA का फुल फॉर्म ( UAPA Full Form) क्या होता है?

तो दोस्तो आज के इस आर्टिकल में आपको इसी बारे में जानकारी दी जा रही है की UAPA क्या है? UAPA का मतलब क्या है? या फिर UAPA का फुल फॉर्म ( UAPA Full Form) क्या होता है?

UAPA Act

दोस्तों इस आर्टिकल के जरिए आप निम्न टॉपिक के बारे में जानकारी प्राप्त करेगें

UAPA Full Form | UAPA Kya Hai | यूएपीए क्या है | यूएपीए फुल फॉर्म | Full Form Of UAPA in Hindi | UAPA Full Form in Hindi | UAPA Meaning in hindi | UAPA Ka Full Form Kya Hota Hai | UAPA Kya hota Hai

तो दोस्तों सबसे पहले आपको बता दे कि ये UAPA का मतलब आखिर होता क्या है? दरअसल “UAPA” का मतलब होता है “Unlawful Activities Prevention Amendment Act” जिसे “Unlawful Activities Prevention Act” भी कहते हैं और इसका हिंदी में अर्थ “गैरकानूनी गतिविधियाँ रोकथाम कानून” होता है।

UAPA Full Form Unlawful Activities Prevention Amendment Act

UAPA Full Form : Unlawful Activities Prevention Amendment Act

UAPA Full Form in Hindi : गैरकानूनी गतिविधियाँ रोकथाम कानून

UAPA Full Form in Hindi

गैरकानूनी गतिविधियाँ रोकथाम कानून (UAPA Act) क्या है? UAPA Full Form in Hindi

UAPA एक्ट को भारत में गैरकानूनी गतिविधियों और आतंकी गतिविधियों से निपटने और गैरकानूनी गतिविधियों से सम्बंधित व्यक्ति, संस्था के खिलाफ निपटने के लिए बनाया गया है। या सीधे शब्दों में कहें तो कोई भी व्यक्ति या संस्था यदि भारत के सम्प्रभुता, अखंडता और सुरक्षा पर चोट करेंगी उस व्यक्ति / संस्था के खिलाफ UAPA Act के तहत मुकदमा दर्ज किया जाता है।

दरअसल UAPA Act उन लोगों पर लगता है जो भारत में गैरकानूनी गतिविधियों और आतंकी गतिविधियों में सलिंप्त पाए जाते है।

गैरकानूनी गतिविधियों के खिलाफ लगाया जाने वाला यह एक्ट (Unlawful Activities Prevention Act) काफी खतरनाक होता है। इसमें काफी कड़ी सजा का प्रावधान है।

इसका दायरा इतना व्यापक होता है कि न केवल अपराधी बल्कि वैचारिक विरोध और आंदोलन या दंगा भड़काने की स्थिति में भी यह एक्ट लगाया जाता है। UAPA Full Form

इस कानून का मुख्य काम आतंकी गतिविधियों को रोकना होता है। इस कानून के तहत पुलिस ऐसे आतंकियों, अपराधियों या अन्य लोगों को चिह्नित करती है, जो आतंकी गतिविधियों में शामिल होते हैं, इसके लिए लोगों को तैयार करते हैं या फिर ऐसी गतिविधियों को बढ़ावा देते हैं।

आतंकवादी गतिविधि क्या होती है?

UAPA कानून के बारे में जानने के लिए इस बात को समझना बहुत ही जरुरी है कि ऐसे कौन से कार्य होते है। जिन्हें आतंकवादी गतिविधि कहा जाता है। तो आइये जानते है आतंकवादी गतिविधि से संबधित बिंदु।

  • किसी भी अपराध को करने में किसी ऐसे हथियार का इस्तेमाल करना जो बहुत ही खतरनाक व घातक हथियार हो।
  • किसी अपराध को इस मंशा से करना जिससे लोगों में डर पैदा हो सकें।
  • किसी समूह को या सरकार को अपनी बात मनवाने के लिए धमकी देना।
  • अन्य देश से आए हुए लोगों को हथियार देकर या अन्य किसी तरीके से गलत कार्य में मदद करना भी आतंकवादी गतिविधि कहलाती है।
इन्हें भी देखें :-  What is SGPGI Full Form? SGPGI का Full Form क्या होता है? जानें SGPGI के बारे में जरूरी बातें…

यदी किसी व्यक्ति / संस्था के खिलाफ UAPA Act के तहत मुकदमा दर्ज किया जाता है तो भारत की राष्ट्रीय जाँच एजेंसी NIA इस केस की जांच करती है। इस मामले में NIA को बहुत शक्तियाँ दी गई है, अगर NIA के महानिदेशक चाहे तो उस व्यक्ति / संस्था पर कुर्की की कार्यवाही भी कर सकती है। और ये पूरा केस Non Bailable होता है मतलब ये की सिविल मामले की तरह इसमें अग्रिम जमानत भी नहीं मिलती है। UAPA Full Form

इस मामले में एक और घटना बताते हैं कुछ समय से पहले की एक घटना है जिसमें पुरुष टी -20 क्रिकेट वर्ल्ड कप के भारत-पाकिस्तान के मुकाबले में पाकिस्तान के जीतने के बाद भारत के कुछ हिस्से से खबर ये आयी की यूनिवर्सिटी के कुछ स्टूडेंट्स ने पाकिस्तान की जीतने पर पटाखे फोड़े और पाकिस्तान ज़िंदाबाद के नारे लगाए गए।

इन सब घटनाक्रम के बाद भारत की सरकार तुरंत कार्यवाही करते हुए इन सभी स्टूडेंट्स पर UAPA एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया। और फिर इस पूरे मामले की जाँच पड़ताल और कार्यवाही भारत की राष्ट्रीय जाँच खुफिया एजेंसी NIA के द्वारा की जाती है।

UAPA कानून के तहत NIA के पास कार्रवाई करने के असीमित अधिकार हैं। यह कानून NIA को अधिकार देता है कि वो आतंकी गतिविधियों में शक के आधार पर लोगों को उठा सकती है और उन्हें गिरफ्तार कर सकती है। इसके अलावा संगठनों को आतंकी संगठन घोषित कर उन पर कार्रवाई कर सकती है। UAPA Full Form

UAPA ACT कब लागू होता है?

  • किसी भी आतंकवादी समूह की मदद करने पर।
  • आतंकवाद फैलाने के लिए लोगों को तैयार करने व उनकी मदद करने पर।
  • कोई भी गैर-कानूनी व हथियार से किसी की मदद करने पर।
  • किसी अन्य तरीके से आतंकवाद गतिविधि में शामिल पाए जाने पर।

UAPA Act का गठन कब किया गया?

बात साल 1962 की है जब तमिलनाडु के तत्कालीन एक बड़े नेता ने तमिलनाडु को एक अलग देश बनाने की बात कही, और साथ में इनके पार्टी का ये एजेंडा भी था।

जब इंडियन गवर्नमेंट ने इस बात को जाना तो उस समय भारत में कोई कानून नहीं था। जो भारत की सम्प्रभुता, अखंडता, सुरक्षा, सांप्रदायिकता, जातिवाद, क्षेत्रवाद और भारत तो तोड़ने की बात करनेवालों पर कड़ी कानूनी कार्यवाही की जा सके। तब जा कर National Integration Council के बैठक के बाद सन् 1967 में संसद के द्वारा पास कर UAPA एक्ट को लाया गया।

और इसमें समय समय पर संशोधन कर इसे भारत का एक मुख्य, गैरकानूनी और आतंकी गतिविधियों से निपटने वाला कानून बनाया गया। शुरुआत में इस कानून को सिर्फ सांप्रदायिकता, जातिवाद और क्षेत्रवाद से निपटने के लिए बनाया गया था आतंकवाद शब्द का जिक्र शुरू-शुरू UAPA एक्ट में कहीं भी नहीं किया गया था। UAPA Full Form

UAPA Act में सजा कितनी होती है?

UAPA एक्ट की धारा 16a के अनुसार यदि कोई व्यक्ति आतंकी गतिविधि में शामिल पाया जाता है या किसी आतंकवादी गतिविधि के कारण किसी व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है। उस स्थिति में जो भी दोषी पाया जाता है। उसे आजीवन कारावास से लेकर मृत्यु दंड़ की सजा व जुर्माने से दंडित किया जा सकता है।

अब थोड़ा सा इसके इतिहास के बारे में जान लेते हैं पंजाब में चल रहे आतंकी गतिविधियों से निपटने के लिए सरकार ने सन् 1985 में Terrorist and Disruptive Activities (Prevention) Act (TADA) और भारतीय संसद और कंधार प्लेन हाईजैक के कारण सन् 2001 में Prevention of Terrorism Act, 2002 (POTA) लाये गए।

लेकिन इन दोनों कानूनों का बड़े स्तर पर दुरूपयोग होने के कारण क्रमशः 1995 और 2004 में इसे रद्द कर दिया गया। अब आते हैं UAPA एक्ट पर इसमें कई बार समय समय पर संशोधन किये गए, पर साल 2004 में UAPA एक्ट का सबसे महत्वपूर्ण संशोधन किया गया जब रद्द किये कानून POTA की धाराओं को इसमें शामिल किया गया। UAPA Full Form

इन्हें भी देखें :-  What is TWS Full Form? Bluetooth earphone में TWS क्या होता है? जानें TWS के बारे में जरूरी बातें…

और सबसे नवीनतम संशोधन इसमें साल 2019 में किये गए अब UAPA एक्ट के द्वारा किसी व्यक्ति को भी आतंकी घोषित किया जा सकता है। जबकि इससे पहले सिर्फ किसी संस्था, या समूह को ही आतंकी घोषित किया जा सकता था।

इस संशोधन से पहले इस एक्ट में किसी को व्यक्तिगत आतंकवादी ठहराने का कोई प्रावधान नहीं था। ऐसे में जब किसी आतंकवादी संगठन पर प्रतिबंध लगाया जाता था तो उसके सदस्य एक नया संगठन बना लेते थे। इस प्रक्रिया पर लगाम लगाने के लिए सरकार ने UAPA Act में संशोधन किया।

इस संशोधन से पहले इस कानून के आधार पर NIA को जांच के लिए संबंधित राज्य की पुलिस से अनुमति लेनी पड़ती थी, लेकिन अब इसकी जरूरत नहीं रह गई है।

NIA के अधिकारों की बात करें तो वो चाहे तो आतंकवाद से जुड़े किसी भी मामले में सबूत के आधार पर व्यक्ति को गिरफ्तार कर सकती है और उसे आतंकी घोषित कर संपत्ति सीज कर सकती है। UAPA Full Form

पहले इसके लिए पुलिस महानिदेशक से अनुमति लेनी होती थी, लेकिन 2019 में किए गए संशोधन के बाद अब यह विधेयक NIA को अधिकार देता है कि आतंकवाद से जुड़े किसी मामले की जांच के लिए NIA के अधिकारियों को सिर्फ एनआईए डायरेक्टर जनरल से परमिशन लेनी होगी।

कानून में हुए संशोधन के बाद अब NIA के अफसरों को भी ज्यादा अधिकार दिए गए हैं। अब इंस्पेक्टर रैंक या उससे ऊपर के अफसर आतंकवाद से जुड़े ऐसे किसी भी मामले की जांच कर सकते हैं।

इस कानून के तहत किसी व्यक्ति पर शक होने मात्र से ही उसे आतंकवादी घोषित किया जा सकता है। इसके लिए उस व्यक्ति का किसी आतंकी संगठन से संबंध दिखाना भी जरूरी नहीं होगा। आतंकवादी का टैग हटवाने के लिए उसे कोर्ट की बजाय सरकार की बनाई गई रिव्यू कमेटी के पास जाना होगा। हालांकि बाद में कोर्ट में अपील की जा सकती है। UAPA Full Form

UAPA Act से जुड़ी महत्वपूर्ण बातें

  • इस कानून का इस्तेमाल पूरे भारत देश में लागू होता है।
  • यदि कोई भी भारतीय या विदेशी नागरिक इस तरह के अपराध में शामिल पाया जाता है तो उन पर UAPA एक्ट के तहत कार्यवाही की जाती है।
  • इस कानून का मुख्य उद्देश्य नक्सलवाद और आतंकवादी गतिविधियों पर रोक लगाना है।
  • कोई भी ऐसी गतिविधि जिससे भारत की सुरक्षा और अखंडता को खतरा हो उस स्थिति में UAPA एक्ट के तहत कार्यवाही की जाती है।
  • UAPA एक्ट के तहत एंटीसिपेटरी बेल यानी अग्रिम जमानत पर पूरी तरह से प्रतिबंध लगा दिया गया है।
  • इस कानून के तहत राष्ट्रीय जाँच एजेंसी (NIA) को सभी जरुरी अधिकार प्राप्त होते है, जिससे वो अपने कार्य को बिना किसी रुकावट के कर सकते हैं।

संगठन या व्यक्ति को आतंकी घोषित करना

इंडियन गवर्नमेंट अब किसी भी व्यक्ति, संगठन या समूह को जो भारत में गैरकानूनी, आतंकी गतिविधियों में सलिंप्त पाए जाते है या किसी भी प्रकार के आतंवादी घटना की तैयारी करना, या ऐसे समूहों या व्यक्तियों से लिंक होना। जो भारत को तोड़ने और इसके अखंडता पर चोट करने वाले ऐसे व्यक्तियों या संगठन, समूहों पर UAPA एक्ट लगाकर सीधा आतंकवादी घोषित कर सकती है। UAPA Full Form

आतंकियों या आतंकी समूहों की सम्पति जब्त करना

UAPA कानून में ये सीधा सीधा प्रावधान है की अगर कोई व्यक्ति या संगठन भारत या विदेशों में भी भारत में आतंकवाद फैलाने के मकसद से फण्ड इकठ्ठा कर रहा हो तो ऐसे व्यक्तियों या समूहों के खिलाफ NIA इनकी सम्पति और इनके ठिकाने को कुर्की जब्ती कर कड़ी से कड़ी कार्यवाही करेगी। UAPA Full Form

कानून की कई धाराओं में कठोर प्रावधान

UAPA में धारा 18, 19, 20, 38 और 39 के तहत केस दर्ज होता है. धारा 38 तब लगती है जब आरोपी के आतंकी संगठन से जुड़े होने की बात पता चलती है. धारा 39 आतंकी संगठनों को मदद पहुंचाने पर लगाई जाती है। UAPA Full Form

इस एक्ट के सेक्शन 43D (2) में किसी शख्स की पुलिस कस्टडी की अवधि दोगुना करने का प्रावधान है. इस कानून के तहत पुलिस को 30 दिन की कस्टडी मिल सकती है. वहीं न्यायिक हिरासत 90 दिन की भी हो सकती है. बता दें कि अन्य कानूनों में अधिकतम अवधि 60 दिन ही होती है.

इन्हें भी देखें :-  RCH Full Form in Hindi | RCH का मतलब क्या होता है? जाने RCH के बारे मे जरुरी बातें

अग्रिम जमानत मिलना संभव नहीं

जानकार बताते हैं कि अगर किसी शख्स पर UAPA के तहत केस दर्ज हुआ है, तो उसे अग्रिम जमानत नहीं मिल सकती. यहां तक कि अगर पुलिस ने उसे छोड़ दिया हो तब भी उसे अग्रिम जमानत नहीं मिल सकती. दरअसल, कानून के सेक्शन 43D (5) के मुताबिक, कोर्ट शख्स को जमानत नहीं दे सकता, अगर उसके खिलाफ प्रथम दृष्टया केस बनता है।

इसे भी देखें :- What is UAPA Full Form? UAPA Act क्या है? UAPA का मतलब क्या होता है? जानें UAPA के बारे में…

अब ये कानून तो बहुत अच्छा है इससे भारत को आतंकवादी हमलों से बचाया जा सकता है क्योंकि अगर NIA को लगता है की कोई व्यक्ति, या संगठन भारत में आतंकवाद फैलाने की कोशिश या इसके लिए फण्ड इकठ्ठा कर रहा हो तो उस व्यक्ति / संस्था पर तुरंत कार्यवाही की जाएगी, लेकिन इस एक्ट का ये कहकर कई विपक्षी दलों द्वारा विरोध भी किया गया की इसका इस्तेमाल एक्टिविस्ट्स और आंदोलनकारियों पर भी किया जा सकता है।

FAQ About UAPA Full Form

Q. UAPA का Full Form क्या होता है? What is UAPA Full Form?

Ans : UAPA का Full Form होता है Unlawful Activities Prevention Act, जिसे हिंदी में “गैरकानूनी गतिविधियाँ रोकथाम कानून” कहा जाता है।

Q. UAPA Act क्या है?

Ans : गैरकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) अधिनियम यानी UAPA Act को आतंकी गतिविधियों पर नकेल कसने के लिए लाया गया था। UAPA Act के तहत आतंकियों और आतंकी गतिविधियों में शामिल संदिग्ध लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जाती है।

इस कानून का मुख्य उद्देश्य आतंकी गतिविधियों पर रोकथाम लगाना है। पुलिस और जांच एजेंसियां इस कानून के तहत ऐसे आतंकियों, अपराधियों और संदिग्धों को चिन्हित करती है, जो आतंकी गतिविधियों में शामिल होते हैं।

UAPA Act के तहत राष्ट्रीय जांच एजेंसी यानी NIA संदिग्ध या आरोपी की संपत्ति जब्त और कुर्क कर सकती है।

Q. UAPA Act का गठन कब किया गया था?

Ans: यूएपीए कानून को साल 1967 में लाया गया था। तब से लेकर अब तक इसमें चार बार संशोधन किए जा चुके हैं। 2004, 2008, 2012 और 2019 में इस कानून में बदलाव किए गए।

Q. UAPA एक्ट कौन लगा सकता है?

Ans: UAPA या विशेष उपाधिकार अधिनियम (Unlawful Activities (Prevention) Act) भारत में संचालित किया जाने वाला एक कठिन नैतिकता कानून है, जिसका उपयोग अत्यंत जागरूकता के साथ किया जाता है ताकि आपातकालीन स्थितियों में आतंकवाद के खिलाफ कदम उठाया जा सके।

UAPA Act के तहत दोषियों को अनियमित गतिविधियों के लिए गिरफ्तार किया जा सकता है, लेकिन इसका प्रयोग सरकार द्वारा किया जाता है। कोई व्यक्ति या संगठन इस अधिनियम के तहत आरोपी के रूप में आ सकते हैं, लेकिन उनके खिलाफ कदम उठाने के लिए ये साबित करना होता है कि वे आतंकवादी गतिविधियों में शामिल थे।
कृपया ध्यान दें कि UAPA एक्ट के तहत कई प्रकार के कार्रवाई की जाने की संभावना होती है, और यह भारतीय कानूनी प्रक्रिया के तहत होतीहै।

तो दोस्तों ऊपर आर्टिकल में हमने आपको UAPA Full Form : Unlawful Activities Prevention Act (गैरकानूनी गतिविधियाँ रोकथाम कानून) के बारे में डिटेल में जानकारी दी है।

दोस्तों उम्मीद है कि इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आपको UAPA Full Form के बारे में जानकारी मिल गई होगी और आपको ये आर्टिकल पसन्द आया होगा।

दोस्तों अगर ये जानकारी आपको अच्छा लगी है तो इसे अपने दोस्तो के साथ अपने सोशल मीडिया अकाउंट्स पर शेयर जरूर कर देना ताकी और लोगों को भी इस बारे में जानकारी मिल सके। UAPA Full Form

धन्यवाद!

दोस्तों आपको हमारे द्वारा दी गई यह जानकारी कैसी लगी।

अगर ये आर्टिकल आपको पसंद आया हो तो इसे 5 star रेटिंग दीजिए!

Average rating 5 / 5. Vote Count: 1

No votes so far! Be the first to rate this post.

दोस्तों अगर आपको यह जानकारी पसंद आई हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें ताकि उन्हें भी इस बारे में जानकारी मिल जाए

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *