What is CPU Full Form? मोबाइल / कंप्यूटर में CPU क्या होता है? जाने सीपीयू के बारे में डिटेल में…

CPU Full Form
5
(1)

CPU Full Form

वर्तमान समय में कंप्यूटर का इतना अधिक उपयोग होने लगा है, कि अब अधिकतर कार्यों को कंप्यूटर के माध्यम से ही पूरा किया जाता है, वहीं जिन लोगों को कंप्यूटर के विषय में अच्छे से ज्ञान होता है, तो उन्हें कंप्यूटर से सम्बंधित अच्छी नौकरी भी प्रदान की जाती है, क्योंकि, आजकल पढ़ाई से लेकर नौकरी तक सभी कार्यों को कंप्यूटर के द्वारा ही पूरा किया जाता है

इसलिए वर्तमान समय में लोगों को कंप्यूटर का ज्ञान होना अतिआवश्यक माना गया है, क्योंकि अब कंप्यूटर का अत्याधिक महत्व हो गया है। कंप्यूटर का सबसे महत्वपूर्ण पार्ट उसका CPU होता है लेकिन शायद बहुत सारे लोगों को CPU के बारे में (या CPU Full Form) ना पता हो।

ऐसे में आपने भी कई बार कंप्यूटर के संदर्भ में सीपीयू (CPU) शब्द जरूर सुना होगा। अक्सर कंप्यूटर के यूज को लेकर सीपीयू (CPU) शब्द का इस्तेमाल किया जाता है।

लेकिन क्या आपको पता है की CPU (सीपीयू) क्या होता है? या फिर CPU का Full Form (CPU Full Form) क्या होता है? और Computer में CPU का क्या काम होता है?

अगर नहीं तो आज के इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको यही बताने वाले है की सीपीयू (CPU) क्या होता है? CPU Ka Full Form क्या होता है? और Computer में CPU का क्या काम होता है? साथ ही आपको CPU से सम्बंधित अन्य महत्वपूर्ण तथ्यों से भी अवगत करवाया जायेगा। तो चलिए जानते है CPU Full Form in Hindi के बारे में।

CPU की फुल फॉर्म / CPU Full Form in Hindi

तो दोस्तों आपको बता दें कि Computer के फिल्ड में CPU का Full Form होता है Central Processing Unit (सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट) जिसका हिंदी में अर्थ होता है “केंद्रीय संचालन इकाई” या “केंद्रीय प्रचालन तंत्र

CPU Full Form : Central Processing Unit

CPU Full Form in Hindi : सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट

हिंदी में अर्थ : केंद्रीय संचालन इकाई / केंद्रीय प्रचालन तंत्र

CPU Full Form Central Processing Unit

कंप्यूटर में Central Processing Unit (CPU) क्या होता है?

Central Processing Unit (CPU) कंप्यूटर का सबसे महत्त्वपूर्ण पार्ट होता है। CPU को कंप्यूटर का दिमाग कहा जाता है। जो भूमिका हमारे शरीर के लिए हमारा मस्तिष्क निभाता है वही भूमिका एक कंप्यूटर के लिए सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट (CPU) निभाता है इसीलिए यह कहा जाता है की सीपीयू (CPU) किसी भी कंप्यूटर का मस्तिष्क होता है।

CPU ठीक हमारे मस्तिष्क की तरह कार्य करता है जिस प्रकार हमारा मस्तिष्क सोचने, समझने, निर्णय लेने का कार्य करता है ठीक उसी तरह CPU भी सभी तरह की कम्प्यूटेशनल डिवाइस में यूजर के द्वारा दिए कमांड के आधार पर सोचने, समझने और निर्णय लेने का कार्य करता है इसलिए CPU को Brain Of Computer (कंप्यूटर का दिमाग) कहा जाता है।

किसी कम्प्यूटर में Central Processing Unit (CPU) अंकगणितीय और तार्किक निर्देशों पर कार्य करता है और कंप्यूटर के प्रोग्राम को रन करता है। कंप्यूटर में जटिल गणनाओं को पूरा करने में CPU सबसे महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। कंप्यूटर इनपुट डाटा की प्रोसेसिंग CPU में करता है।

Central Processing Unit (CPU) एक इलेक्ट्रॉनिक चिप कि तरह होता है। इसमें कंप्यूटर के सभी Software Install होते हैं। बिना CPU के आपका कंप्यूटर किसी भी तरह की एक्टिविटी का रेस्पॉन्स नहीं देगा।

किसी कम्प्यूटर में Central Processing Unit (CPU) सूचनाओं का विश्लेषण करके हमें हमारी दी गई कमांड के हिसाब से जानकारी प्रदान करता है। जिस प्रकार से हमारे पूरे शरीर के संचालन के लिए मस्तिष्क आवश्यक है उसी तरह से कंप्यूटर के संचालन के लिए Central Processing Unit (CPU) आवश्यक है।

CPU को MicroProcessor के नाम से भी जाना जाता है।

CPU कैसा दिखाई देता है ?

एक आधुनिक CPU आम तौर पर छोटा और चौकोर आकार का बना हुआ होता है, जिसमें कई छोटे, गोलाकार, धातु कनेक्टर इसके अंडरसाइड पर दिखाई देते हैं, लेकिन वहीं जिन लोगों के पास कुछ पुराने CPUs है, तो उनमे धातु कनेक्टर की बजाय पिन लगे हुए होते हैं। सीपीयू मदरबोर्ड पर सीधे एक CPU “सॉकेट” (या कभी-कभी “स्लॉट”) में मौजूद होता है। CPU सॉकेट पिन-साइड-डाउन में डाला जाता है, जो मुख्य रूप से एक छोटा लीवर प्रोसेसर को सुरक्षित करने में सहायता प्रदान करता है । 

यदि CPU में कुछ समय तक रन होता ही रहता है, तो कुछ समय पश्चात् ही, आधुनिक CPU बहुत गर्म हो सकते हैं। इस गर्मी को खत्म करने के लिए CPU के टॉप पर सीधे हिट सिंक और फैन लगा दिया जाता है। आम तौर पर, ये जब आप एक CPU खरीदते हैं, तो Heat Sink, और Fan उसके साथ ही आते हैं।

Central Processing Unit (CPU) के कंपोनेंट / CPU काम कैसे करता है?

Central Processing Unit (CPU) किसी भी कंप्यूटर में सबसे मुख्य काम करता है। यह कंप्यूटर की जटिल गणनाओ को करने से लेकर अन्य सभी ऑपरेशन पूरे करता है। कंप्यूटर के सभी प्रोग्राम को चलाने के लिए Central Processing Unit (CPU) कंप्यूटर का सबसे महत्वपूर्ण पार्ट होता है।

इन्हें भी देखें :-  What is RTH Full Form? Rajasthan Right To Health Bill क्या है? जानें राइट टू हेल्थ बिल के बारे में सभी जरूरी बातें…

Central Processing Unit CPU

Central Processing Unit (CPU) में 2 मुख्य भाग होते हैं जिनमे पहला होता है Arithmetic Logic Unit  (ALU/ अर्थमेटिक लॉजिक यूनिट) और दूसरा होता है Control Unit  (कंट्रोल यूनिट / CU)। इसके अलावा इसमें Registers और RAM (Random Access Memory / रैम) भी होती है जो की CPU के कार्य संचालन में मदद करती है।

कंप्‍यूटर के Architecture में CPU (Central Processing Unit) केेन्‍द्र में रहता है। इनपुट डिवाइसेज के द्वारा डाटा और निर्देशों को कंप्‍यूटर में एंटर किया जाता है और इसके बाद CPU (Central Processing Unit) डाटा को प्रोसेस करता है, डाटा को प्रोसेेस करनेे में यह अपने दो भागोंं Arithmetic Logic Unit (ALU) और Control Unit (CU) की मदद लेता है।

प्रोसेसिंग में पहले Primary Memory (RAM) में जो डाटा होता है और जो निर्देश होते हैं वह Arithmetic Logic Unit (ALU) में ट्रांसफर हो जाते हैं और वहां पर उनकी प्रोसेसिंग का कार्य होता है। Arithmetic Logic Unit (ALU) से जो परिणाम मिलते हैं उनको Primary Memory में ट्रांसफर कर दिया जाता है और प्रोसेसिंग समाप्त होने के बाद में Primary Memory में जो डाटा आता है या अंतिम परिणाम आते हैं वह एक Output Device के माध्यम से आप तक पहुंचा दिए जाते हैं।

cpu components

इनपुट डिवाइस से डाटा कब लेना है?, स्टोर यूनिट में डाटा कब डालना है?, वैल्यू से डाटा को कब लेना है?, और जब वह डाटा प्रोसेस हो जाए उसको आउटपुट डिवाइस तक कब भेजना है?, यह सारे काम Control Unit (CU) करता है।

Arithmetic Logic Unit (ALU)

यह CPU का एक महत्वपूर्ण भाग है। यह सभी संख्यात्मक और तार्किक कार्यों के लिए जिम्मेदार है। Arithmetic Logic Unit अंकगणितीय गणना (Arithmetic Calculation) और तार्किक गणना (Logical Calculation) का काम करता है, जैसे जोड़, घटाव, गुणा, भाग और <, >, =, हाँ या ना

यह सीपीयू का पार्ट होता है जो डेटा operate करने में मदद करता है। Arithmetic Logic Unit (ALU) के द्वारा हम Fundamental Arithmetic Operations ( जैसे कि +, -, *,/,), Logical Operations ( जैसे कि OR, AND, NOT, आदि) और Comparison Operations ( जैसे कि =,<,>, आदि) कर पाते है।

अगर आसान भाषा में जाने तो ALU के द्वारा हम अपने कंप्यूटर पर जोड़, घटाना, गुणा, भाग, डाटा को मैच करना आदि कार्य करते हैं। इसे हिंदी में “अंक गणितीय तार्किक इकाई” कहा जाता है।

Control Unit (CU)

Control Unit कंप्‍यूटर में हो रहे सारे कार्यो नियंत्रित करता है और इनपुट, आउटपुट डिवाइसेज, और अर्थमेटीक लॉजिक यूनिट (Arithmetic Logic Unit) के सारे गतिविधियों के बीच तालमेल बैठाता है। Control Unit को हिंदी में ‘नियंत्रण इकाई‘ कहा जाता है। यह कंप्यूटर के सभी Functions (जैसे कि – Input, Output, Storage, और Process ) को नियंत्रित करता है।

CPU में Backside Bus नाम से एक Internal Bus भी होती है जिसका मुख्य कार्य इंटरनल Cache मेमोरी के साथ कम्युनिकेशन करना है। इसके अलावा यह चिपसेट, SGP सॉकेट और मेमोरी से डाटा को भी प्रोसेस करता है जिसके लिए इसमें मुख्य बस के रूप में Frountside Bus भी मौजूद होती है। हमे कंप्यूटर मॉनिटर पर जो भी सूचना प्रदर्शित होती है वह सीपीयू द्वारा प्रोसेस करने के बाद ही डिस्प्ले की जाती है।

Memory Unit या Registers

Memory कंप्यूटर की एक Essential Component है। CPU की Memory में Computer का सारा डाटा और प्रोग्राम्स स्टोर रहते हैं।

Computer में Memory दो प्रकार की होती है-

Primary Memory (RAM)

यह CPU की Temporary Storage है। जहां प्रोसेसिंग के लिए डाटा या निर्देशों को Store किया जाता है। ये इंफॉर्मेशन को Bits की फॉर्म में रखता है। यह रजिस्टर अलग-अलग Capacity के होते हैं। जैसे :- 2bit, 4bit, 8bit register etc

Secondary Memory (Hard Disk)

System Busses :- CPU और Memory के बीच डाटा को ले जाने की लिए इन System Buses का उपयोग होता है। ये Cable और Conncctors से बना एक मार्ग होता है। Computer system के विभिन्न घटकों के बीच data और Control Signals का आदान-प्रदान हो सके इसके लिए ये Buses एक Communication Path के रूप में कार्य करती है।

Computer System में तीन प्रकार की सिस्टम बस होती है।

  • Address Bus
  • Data Bus
  • Control Bus

CPU में Core का क्‍या मतलब होता है?

जब भी प्रोसेसर की बात होती है, तो Core भी सामने आता है जैसे कि Processor कितने Core का है? तो आइये एक नजर इस पर भी डालते हैं। दरअसल Core ‘Processor’ की क्षमता को दर्शाता है कि प्रोसेसर कितनी क्षमता वाला है। यदि प्रोसेसर ‘Singal Core’ का होगा, तो वो भारी काम नहीं कर पायेगा और हैंग हो जायेगा। इसलिए मंहगे कंप्यूटर, लैपटॉप और मोबाइल में Dual Core,, Quad Core, और Octa Core वाला प्रोसेसर लगाया जाता है। जिससे इसकी कार्य करने की क्षमता बढ़ जाती है।

जब भी हम अपने कंप्यूटर या मोबाइल में कोई कमांड देते है तो कमांड के अनुकूल आगे क्या प्रॉसेस होनी है वह CPU की ही जिम्मेदारी होती और CPU ही करवाता है। जैसे- जब हमें कोई वीडियो चलाना होता है तो हम केवल उस पर क्लिक करते है और वो वीडियो चलने लगता है, यहाँ होता कुछ ये है कि जब हम वीडियो पर क्लिक करते है तो CPU के पास कमांड जाता है कि वीडियो प्ले करना है और CPU उस वीडियो को प्ले कर देता है।

अब ये कार्य CPU कितनी जल्दी से कर सकता है वह CPU की कार्यक्षमता पर निर्भर करता है। CPU जितना ज्यादा Powerful होगा, उसमे जितनी ज्यादा Core की संख्यां होगी कार्य भी उतनी तेजी से होगी, इसलिए हमारे सभी प्रकार के कम्प्यूटेशनल डिवाइस में CPU यानि Processor का Powerful होना बहुत ही जरुरी है।

जिस Processor के अन्दर केवल एक Core रहता है उसे Single Core Processor कहा जाता है और जिस Processor के अन्दर एक से ज्यादा Core लगे होते है उसे Multi Core Processor कहा जाता है। हालाँकि एक से ज्यादा Core वाले Processor को कोर की संख्यां के आधार पर Categorized किया गया है जैसे- Dual Core, Quad Core, Hexa Core, Octa Core.

इन्हें भी देखें :-  What is MSCIT Full Form? | MSCIT का Full Form क्या होता है? जानें MSCIT के बारे में जरूरी बातें…

Single Core Processor ज्‍यादा बोझ पडते ही हैंग होने लगता है, इसलिये इसकी क्षमता बढाने के लिये प्रोसेसर में अतिरिक्‍त कोर (Core) लगाये जाते हैं, इनकी संख्‍या के आधार पर ही प्रोसेसर के नाम पढ़े। आईये इनके बारे में जानते हैं –

  • दो Core का CPU मतलब – Dual Core Processor
  • चार Core का CPU मतलब – Quad Core Processor
  • छह Core का CPU मतलब – Hexa Core Processor
  • आठ Core का CPU मतलब – Octa Core Processor
  • दस Core का CPU मतलब – Deca Core Processor

CPU Core's

Single Core CPU

Single Core वाले CPU पुराने जमाने के कंप्यूटर के अंदर इस्तेमाल हुआ करते थे और अब इनका चलन लगभग बिल्कुल खत्म हो चुका है। यह Single Core के CPU सिर्फ और सिर्फ Single Tasking के लिए काम आता है यानी कि इससे आप सिर्फ एक विंडो मे काम कर सकते हैं और यह multi tasking के लिए नहीं है। इसमे आप सिर्फ एक बार मे एक ही Application को चला सकते हो और उसकी भी बहुत खराब स्पीड आती है।

Dual Core CPU

Dual Core CPU इसमें एक ही CPU में दो अलग-अलग Processor होते है । जो एक ही इंटीग्रेड सर्किट के साथ काम करते है। इस प्रकार का प्रोसेसर एक ही प्रोसेसर की तरह कुशलता से कार्य कर सकता है। लेकिन दोगुना तेजी से संचालन कर सकता है। चूंकि प्रत्येक कोर का अपना पावर होता है। इनमें ऑपरेटिंग सिस्टम के द्वारा अधिकांश कार्यो को सँभालने में सक्षम होता है। Dual Core और Core 2 duo प्रोसेसर की एक सीरीज है जो इंटेल द्वारा बनाया जाता है। Dual-Core Processor को मल्टीटास्किंग के लिये अच्छी तरह से अनुकूल बनाता है ।

Quad Core CPU

Quad Core CPU में एक चिप में चार Processing Core होते है। यह दो Dual Core CPU के सामान है, मतलब इसमें चार Separate Processor होते है, जो एक ही समय में एक साथ किसी Instructions को प्रॉसेस कर सकते है ।

Quad – Core Cpu हाल के वर्षो में अधिक लोकप्रिय हो गए हैं। हालांकि इनमें परफॉर्मेंस का लाभ केवल तब ही प्राप्त किया जा सकता है जब कंप्यूटर का सॉफ्टवेयर Multi Core Processing को सपोर्ट करता हो, यह सॉफ्टवेयर को एक समय में केवल एक प्रोसेसर का उपयोग करने के बजाय कई Processor के बीच Processing Load को डिवाइड करने की परमिशन देता है। Quad Core Cpu के कुछ उदाहरण में इंटेल कोर 2 Quad , इंटेल Nc Haleem और AMD Phenom x 4 Processor शामिल है।

Hexa Core CPU

जिस प्रोसेसर में चिप के अंदर 6 Core होते हैं उसे Hexa Core कहा जाता है, ऐसे CPU को Hexa Core CPU कहा जाता है। यह एक मल्टीकोर सीपीयू होते है इसमें Dual Core और Quad Core सीपीयू की तुलना में ज्यादा फ़ास्ट कार्य करने की क्षमता होती है।

Octa Core CPU

Octa Core CPU यानि की प्रोसेसर में ओक्टा कोर का मतलब सामान फ्रीक्वेंसी के 8 कोर होते है। प्रत्येक कोर एक प्रोसेसर का काम करता है। ऐसे में ऑक्टा कोर वाला प्रोसेसर 8 प्रोसेसर का काम करेगा। ऑक्टा कोर प्रोसेसर का मतलब है ज्यादा तेज गेमिंग, फुल स्पीड प्रॉसेसिंग और मल्टी टास्किंग। ऑक्टा कोर प्रोसेसर वाले सीपीयू अन्य CPU से ज्यादा फास्ट होते हैं। आपको बता दें कि ऑक्टा कोर CPU में प्रोसेसर की आठ अलग-अलग लेयर होती है। मल्टीटास्किंग के दौरान ये प्रोसेसर तेजी से काम करता हैं। आजकल लगभग सभी मोबाइल्स में Octa core CPU ही प्रचलन में हैं।

Deca Core CPU

Deca Core CPU में एक ही नहीं 10 कोर होते हैं जो काफी तेज गति से संचालित होता है और यह सामान्यतः कंप्यूटर में बहुत ही फास्ट होता है।

CPU का आविष्कार किसने किया था?

CPU का आविष्कार सर्वप्रथम व्यवसाय क्षेत्रों में फेडेरिको फागिन (Federico Faggin) ने किया था।

CPU का इतिहास 

  • सबसे पहले 1823 में बैरन जोंस जैकब ने Processors को बनाने के लिए आवश्यक मूल घटक सिलिकॉन (Silicon), की खोज की थी।
  • इसके बाद 1903 में, निकोला टेस्ला द्वारा इलेक्ट्रिकल लॉजिक सर्किट्स (गेट्स या स्विच) का पेटेंट कराया गया था। 
  • फिर 1947 में बेल प्रयोगशालाओं में जॉन बार्डन, वाॅल्टर ब्रेटन और विलियम शॉक्ले ने प्रथम ट्रांजिस्टर का आविष्कार किया था। 
  • 1958 में, रॉबर्ट नॉयस और जैक किल्बी ने पहला Integrated Circuit विकसित करने का कारनामा कर दिखाया था। 
  • कंप्यूटर इंडस्ट्री में CPU शब्द को पहली बार 1960 में इस्तेमाल किया गया था।
  • 15 नवंबर 1971 को, इंटेल की तरफ से पहला ‘इंटेल 4004’ Microprocessor पेश किया। 
  • फिर मार्च 1991 में AMD ने AM386 माइक्रोप्रोसेसर्स के Series की शुरुआत कर दी थी।
  • 22 मार्च 1993 को Intel ने पेंटियम 60 MHz का प्रोसेसर जारी किया, जिसमें लगभग1 मिलियन ट्रांजिस्टर्स मौजूद थे।
  • इसके बाद 4 जनवरी सन् 2000 में, Intel Company की तरफ से Celeron 553 MHz बस प्रोसेसर को पेश किया गया था।
  • 22 अप्रैल 2006 को Intel ने Core 2 Duo E6320 प्रोसेसर जारी कर दिया।
  • सन 2008 में, इंटेल कंपनी ने पहला CORE i7 Desktop Processor पेश किया गया।
  • फिर जनवरी 2010 में इंटेल ने पहला Core i5 मोबाइल प्रोसेसर (i5-430M औरi5-520E) जारी किया था ।

CPU का मात्रक क्या होता है?

प्रोसेसर में CPU का मात्रक गीगाहर्ट्ज (GHz) होता है। यानी जिस तरह से पानी को Liter, दूरी को Meter, चीनी को Kilogram, बिजली को Watt में नापा जाता है। उसी प्रकार से प्रोसेसर को Gigahertz (GHz) मे मापा जाता है। तो जितना ज्यादा कोर का प्रोसेसर रहेगा, उसकी क्षमता भी उतनी ही ज्यादा GHz रहेगी और वो उतना ही अच्छा काम करेगा। यही वजह है कि लोग अच्छा प्रोसेसर वाला कंप्यूटर, लैपटॉप या मोबाइल खरीदते हैं।

CPU बनाने वाली प्रमुख कंपनियां कौन-कौन सी हैं?

वैसे तो प्रोसेसर बहुत सारी कंपनियां बनती हैं। लेकिन उनमे से जो प्रमुख कंपनियां हैं, उनके नाम हम आपको नीचे बता रहे हैं।

इन्हें भी देखें :-  What is ACF Full Form? ACF का मतलब क्या होता है? जानें ACF के बारे में जरूरी बातें…

CPU Compenies

  • Intel
  • AMD
  • Qualcomm
  • NVIDIA
  • IBM
  • Samsung
  • Motorola
  • Hewlett-Packard (HP).

Intel और AMD डेस्कटॉप, लैपटॉप और सर्वर के लिए दो सबसे लोकप्रिय CPU निर्माता हैं। वहीं Apple, NVIDIA और Qualcomm स्मार्टफोन और टैबलेट के लिए CPU के बड़े निर्माता कहे जाते हैं।   

CPU के प्रकार

कार्य और क्षमता के आधार पर सीपीयू को 3 प्रकार से विभाजित किया गया है।

  • Transistor CPUs
  • Large Scale Integration CPUs
  • Small Scale Integration CPUs

CPU से सम्बंधित महत्वपूर्ण तथ्य

  • CPU शब्द का प्रयोग सबसे पहले 1960 के दशक में किया गया था। उस समय इसे सॉफ्टवेयर Execution वाले उपकरण के रूप में परिभाषित किया गया था जिसे की Stored Program Computer के साथ शुरू किया गया था।
  • सीपीयू प्रोसेसर में इस्तेमाल होने वाला सिलिकॉन (Silicon) तत्त्व की खोज सबसे पहले बैरन जोंस जैकब द्वारा 1823 में की गयी थी। सिलिकॉन (Silicon) कंप्यूटर प्रोसेसर बनाने में एक मूलभूत तत्त्व है।
  • इलेक्ट्रिकल लॉजिक सर्किट्स या Gates और Switch का पेटेंट सबसे पहले निकोला टेस्ला के द्वारा 1903 में किया गया था।
  • Integrated Circuit का विकास सबसे पहले जैक किल्बी और रॉबर्ट नॉयस के द्वारा 1958 ईस्वी में किया गया था। यह प्रोसेसर इन तीनो साइंटिस्ट के संयुक्त प्रयास से बना था।
  • दुनिया में सबसे पहले ट्राँजिस्टर का अविष्कार जॉन बार्डन, विलियम शॉक्ले और वाॅल्टर ब्रेटन द्वारा किया गया था। इन तीनो ने मिलकर 1947 में दुनिया का सबसे पहला ट्रांजिस्टर बनाया था।
  • प्रोसेसर बनाने में दुनिया की अग्रणी कंपनी Intel द्वारा 15 नवंबर 1971 को पहला माइक्रोप्रोसेसर Intel 4004 पेश किया गया था। AMD द्वारा मार्च 1991 में AM386 माइक्रो प्रोसेसर किया गया था।
  • Intel द्वारा 22 मार्च 1993 को पहली बार 1 मिलियन ट्रांजिस्टर्स की क्षमता वाला पेंटियम 60 MHz प्रोसेसर जारी किया गया था।
  • Intel द्वारा 4 जनवरी 2000 को 553 MHz Bus (सेलेरॉन) प्रोसेसर की शुरुआत की गयी थी वही इंटेल द्वारा Core 2 Duo E6320 प्रोसेसर को 22 अप्रैल 2006 को लांच किया गया था।
  • वर्ष 2008 में Intel द्वारा Core i7 (Desktop-Processor) लांच किया गया था जो की अपनी स्पीड के लिए पसंद किया जाता है।

तो दोस्तों ऊपर ऑर्टिकल में हमने आपको CPU Ka Full Form Kya Hota Hai? (CPU Full Form in Hindi), Computer में CPU क्या होता है? तथा सीपीयू के बारे में डिटेल में जानकारियां भी दी हैं। अब आगे इसी आर्टिकल में हम आपको CPU टर्म के अलग अलग फील्ड के हिसाब से अन्य Full Form की जानकारी भी देंगे

Some Other CPU Full Form 

CPU Full Form in Business

Cost Per Unit

Cost Per Unit (CPU) किसी कंपनी द्वारा किसी विशिष्ट उत्पाद या सेवा की एक इकाई के उत्पादन, भंडारण और बिक्री के लिए किया गया कुल व्यय है। Cost Per Unit (CPU) बेची गई वस्तु की लागत बताती है। इससे किसी प्रोडक्ट की एक इकाई की लागत पता लगाई जाती है।

CPU Full Form In Banking / Accounting

Corporate Payment Undertaking

Corporate Payment Undertaking एक खरीददार के नेतृत्व वाले कार्यक्रम के रूप में प्रदान किया जाता है, जिसके तहत खरीददार की आपूर्ति श्रृंखला में विक्रेता, अपने विकल्प पर, रियायती प्रारंभिक भुगतान प्राप्त करके तरलता का उपयोग कर सकते हैं। विक्रेता को इस तरह के भुगतान में विक्रेता के चालान (या ऐसे चालानों से संबंधित खरीदार द्वारा अनुमोदित राशि) शामिल होते हैं।

CPU Full Form in MedicalChest Pain Units
Cpu Full Form in PharmacyCorporate Pharmaceutical Unit
CPU Full Form in Clinical TrialsClinical Pharmacology Unit
CPU Full Form in Urine ReportCOPROPORPHYRIN
Cpu Full Form in Power PlantCondensate Polishing Unit
Cpu Full Form in PoliceCrime Prevention Unit
CPU Full Form in ChatClever People Understand

FAQ’s About CPU Full Form

Q. Computer में CPU की फुल फॉर्म क्या है?

Ans : Computer में CPU की फुल फॉर्म Central Processing Unit होती है

Q. CPU के कार्य क्या होते हैं?

Ans : CPU को कम्प्यूटर सिस्टम का ब्रेन (मस्तिष्क / दिमाग) होता है। यह एक इलेक्ट्रानिक माइक्रोचिप होता है जो Data को दिये गये निर्देशों के आधार पर, प्रोसेसिंग कर useful Information में बदलता है, तथा कम्प्यूटर सिस्टम के सारे कार्यों को नियंत्रित करता है।
CPU कंप्यूटर का मुख्य भाग है, इसे आप कंप्यूटर का मस्तिष्क भी कह सकते है, इसका कार्य है कंप्यूटर पर आने वाले इनपुट और निर्देशों को प्रोसेस करना। कंप्यूटर की यह यूनिट अंकगणित, तार्किक, नियंत्रण से जुड़े कार्य, इनपुट कार्य, आउटपुट कार्य संपन्न करती है। इसे आम तौर पर प्रोसेसर के रूप में भी जाना जाता ह।
CPU के निम्न महत्वपूर्ण कार्य होते हैं

CPU कंप्यूटर को दिए गए इनपुट को Process करके Result को Output के रूप में दिखाता है।

CPU मेमोरी डिवाइस की मदद से Data को स्टोर करने का काम भी करता है।

CPU कंप्यूटर के सभी भागों के Operation को नियंत्रित करता है।

CPU Compartment में अनेक प्रकार के USB डिवाइस भी लगे होते हैं जिसके माध्यम से कंप्यूटर के अन्य डिवाइस को Connect किया जाता है।

Q. कंप्यूटर के CPU कितने प्रकार के होते हैं? / CPU कितने प्रकार के होते हैं ?

Ans : कंप्यूटर के CPU 3 प्रकार के होते हैं –
Transistor CPU
Large Scale Integration CPU
Small Scale Integration CPU

Q. CPU की मेमोरी यूनिट क्या होती है?

Ans : मेमोरी मैनेजमेंट यूनिट (MMU) मुख्य मेमोरी (RAM) और CPU के बीच डेटा प्रवाह का प्रबंधन करती है।

तो दोस्तों ऊपर आर्टिकल में हमने आपको CPU के Full Form Central Processing Unit के बारे में जानकारी दी है। इसके अलावा हमने आपको अलग अलग फील्ड में CPU Term के अलग अलग Full Form के बारे में भी बताया है।

उम्मीद है दोस्तों आपको यह जानकारी पसन्द आई होगी। अगर आपके पास CPU Full Form के बारे में ऊपर दी गई जानकारी के अलावा कोई और भी जानकारी है तो आप उसे नीचे कमेंट के माध्यम से हमारे साथ साझा कर सकते हैं। हम उसे भी इस आर्टिकल में शामिल कर देंगे।

आर्टिकल को पूरा पढ़ने के लिए धन्यवाद!

दोस्तों आपको हमारे द्वारा दी गई यह जानकारी कैसी लगी।

अगर ये आर्टिकल आपको पसंद आया हो तो इसे 5 star रेटिंग दीजिए!

Average rating 5 / 5. Vote Count: 1

No votes so far! Be the first to rate this post.

दोस्तों अगर आपको यह जानकारी पसंद आई हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें ताकि उन्हें भी इस बारे में जानकारी मिल जाए